SMPS का Full Form और SMPS क्या होता है?

दुनिया में आज करोड़ों लोग कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं। कंप्यूटर का ही एक हार्डवेयर जिसे एसएमपीएस कहते है। बहुत लोगो को SMPS के बारे में पता नहीं होता है। इधर उधर खोजते है। 

क्या आप भी उन्हीं में से है क्या आप भी SMPS के बारे खोज रहे हैं तो आप एक दम सही साइट पर विजिट किए है। इस पोस्ट में आप SMPS क्या है SMPS का full फॉर्म क्या होता है सारी जानकारी देने वाला हूं।

 इस पोस्ट को ध्यान से पढ़िए। मै आशा करता हूं कि आपको इस पोस्ट में आपको आपके सवाल का जवाब मिल जाएगा और हमारा ये पोस्ट आपको जरूर पसंद आएगा।

इस पोस्ट में हम निम्न चीजों को जानने वाले है।

SMPS का full फॉर्म क्या होता है?

SMPS क्या है?

SMPS के कार्य 

SMPS कैसे काम करता है?

SMPS का  उपयोग

SMPS कितने प्रकार का होता है?

SMPS Computer में कहाँ स्थित होता है?

SMPS के लाभ 

SMPS full फॉर्म 

SMPS : स्विच मोड पॉवर सप्लाई

SMPS क्या है? (What is SMPS?)

यह एक ऐसा डिवाइस है, जो कंप्यूटर को पावर सप्लाई देता है। कंप्यूटर के सभी उपकरणों को जितना पॉवर की आवश्यकता होती है उतना ही सप्लाई करता है। 

SMPS AC करेंट को DC करेंट में कन्वर्ट करता है। जब कंप्यूटर को main बोर्ड से पॉवर दिया जाता है उसके बाद ही इसका काम स्टार्ट हो जाता है। रजिस्टर या कैपिसिटर को रैम , मदरबोर्ड, फैन  आदि हिस्सो पर बिजली की सप्लाई करता है।

SMPS के कार्य : (Function of SMPS)

SMPS का मुख्य कार्य बिजली को कंट्रोल करना होता है जब कंप्यूटर को main बोर्ड से बिजली मिलता है, तब यह सबसे पहले SMPS में जाता है। तब यह AC (अल्टरनेटिव करेंट) के रूप में रहता है। SMPS इसको केपिसिटर और डायोड का इस्तमाल करके DC (डायरेक्ट करेंट) में चेंज कर देता है। 

यह रेगुलेटर की मदद से स्विच को कभी बंद और कभी चालू रखता है। इसका मतलब यह है कि कभी एसी को डीसी ने चेंज करता है तो कभी डीसी को एसी में। इसी कारण से इसका नाम स्विच मोड पॉवर सप्लाई है। इसी प्रक्रिया से यह पॉवर को कंट्रोल करता है।

SMPS कैसे कार्य करता है? (How Does SMPS work?)

कंप्यूटर में जब Main करेंट जाता है, वह सबसे पहले SMPS के पास उसके छोटे डिवाइस से होते हुवे सबसे पहले AC फिल्टर के पास जाता है। 

एसी फिल्टर इसके न्यूट्रल और phase के बीच फ्यूज,लाइन,एनटीसी,पीएफ कैपिसिटर के इस्तेमाल के बाद इसके आउटपुट को रेक्टिफायर और फिल्टर के पास भेजता है, जो एसी को डीसी में कन्वर्ट कर देता है। इसके बाद और फिल्टर दो कैपिसिटर का इस्तेमाल करके स्मूथ डीसी में बदल देता है।

SMPS का  उपयोग (What is the use of  SMPS?)

(1) कंप्यूटर में आने वाली एसी करेंट को कंट्रोल करना।

(2) एसी करेंट को डीसी करेंट में कन्वर्ट करने के लिए।

(3) कंप्यूटर के सभी हिस्सों तक पॉवर सप्लाई करने के लिए।

(4) पॉवर को कंट्रोल कर उचित वोल्टेज कंप्यूटर को देना।

SMPS Computer में कहाँ स्थित होता है? (Where is SMPS located in Computer?)

SMPS कम्प्यूटर में पॉवर की सप्लाई और कंट्रोल करता है। SMPS कंप्यूटर के अंदर सीपीयू में लगा होता है। 

SMPS कितने प्रकार का होता है?

SMPS निम्न प्रकार के होते हैं – आइए जानते हैं वे कौन कौन से हैं –

(a)DC से डीसी कन्वर्टर

(b)फॉरवर्ड कन्वर्टर

(c)फ्लीबैक कन्वर्टर

(d)self- Oscillating फ़्लाईबैक कनवर्टर

(a) डीसी से डीसी कन्वर्टर:

इस प्रकार के SMPS में जब एसी करेंट आती है, उसको डीसी में कन्वर्ट करने के लिए सबसे पहले उसे SMPS का एक हिस्सा स्टेप डाउन ट्रांसफार्मर जो 50Hz का होता है उसमे भेजा जाता है। यहां पर वोल्टेज rectified और फिल्टर होकर ट्रांसफार्मर के सेकेंडरी हिस्से में पहुंचता है।

(b) Forword कन्वर्टर:

यह एक ऐसा कन्वर्टर है, जो करेंट को choke के जरिए लाता है। ट्रांजिस्टर काम करता हो या नहीं ट्रांजिस्टर जब पूरी तरह से बंद होता है, उस वक्त ट्रांजिस्टर का काम डायोड करता है। 

जब लोड के अंदर एनर्जी जाता है वो ऑन और ऑफ दोनों वक्त होता है, पर choke अपने पास एनर्जी को रखता है, ऑन होता है तब कुछ एनर्जी को आउटपुट लोड के पास भेजता है।

(c) Flyback कन्वर्टर:

इस प्रकार के SMPS में जब स्विच को ऑन किया जाता है उस वक्त इंडक्टर का मैगनेटिक फिल्ड एनर्जी स्टोर करता है। स्विच के ऑन की स्थिति में ऊर्जा निर्गम वोल्टेज सर्किट खाली होती है। इसमें आउटपुट वोल्टेज को निर्धारित करने के लिए ड्यूटी साइकिल होता है।

(d) सेल्फ – Oscillating Flyback कन्वर्टर:

यह सबसे बेसिक कन्वर्टर है, जो कि Flyback के हिसाब से वर्क करता है। जब कंडक्शन है तब स्विचिंग ट्रांजिस्टर , ट्रांसफर से प्राइमरी रूप से उसे रैखिक रूप के एक स्लोप के हिसाब से बढ़ता है जो vin/Lp होता है।

SMPS के प्रकार इस्तेमाल के हिसाब से:

SMPS का प्रकार इस पर निर्भर करता है, की उसका आकार कितना और उसका इस्तेमाल कैसे होता है।

AT SMPS, ATX SMPS, Baby SMPS

परन्तु इन सभी प्रकार में सबसे अधिक इस्तेमाल AT SMPS और ATX SMPS का किया जाता है। जहां AT का full फॉर्म एडवांस टेक्नोलॉजी स्विच mode होता है और ATX का एडवांस टेक्नोलॉजी एक्सेटेंड SMPS होता है।

SMPS के लाभ (Advanteges Of SMPS)

1) यह काफी छोटा और हल्का होता है।

2) बड़े ट्रांसफार्मर की तुलना में यह कम गर्मी उत्सर्जित करता है।

3) यह अधिक महंगा नहीं होता है।

4) इसकी दक्षता अधिक है लगभग 65 से 75% तक होती है।

albarch hawkton

Leave a Reply