CA Full form In HINDI? (CA का फूल फॉर्म क्या होता है?)

CA का नाम अपने भी जरूर ही सुना होगा। क्या आपको पता है कि CA का Full Form क्या होता है? CA क्या है? CA की सैलरी कितनी होती है? क्या हम 12 वीं के बाद CA करने के लिए ज्वाइन ही सकते हैं? CA कैसे बने? 

CA बनने के लिए क्या योग्यता की आवश्यकता होती है? CA कैसे बने? आज के इस पोस्ट में हम इसी टॉपिक के बारे में बात करने वाले है। ये जो तमाम सवाल का जिक्र मैंने ऊपर किया है, शायद आपके भी माइंड में जरूर ही आया होगा तो चलिए बिना समय गंवाए सबसे पहले ये जानते हैं कि CA का Full form क्या होता है?

CA Full form In HINDI

CA FULL FORM ?( सीए का फुल फॉर्म क्या होता है)

CA – CHARTERED ACCOUNTANT (चार्टर्ड अकाउंटेंट)

अभी अपने CA के फुल फॉर्म के बारे में जाना अब चलिए ये जानते हैं कि CA क्या है?

What is CA? (चार्टर्ड अकाउंटेंट क्या है?)

चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) एक डिग्री कोर्स है। जिसमें छात्र को Account, Business, Tax, लेखा – जोखा जैसे चीजों के बारे में सिखाया जाता है। CA कोर्स के बारे में एक और चीज जो काफी सारे लोगो के जुबान पर आप सुने होंगे कि CA इंडिया में एक हाईएस्ट पेमेंट वाली सलारी है। CA की सैलरी के बारे में हम आगे बात करेंगे।
इससे पहले चलिए जानते हैं कि CA कैसे बने?

How to become CA? (CA कैसे बने?)

यदि आप CA बनना चाहते हैं, या आपके आसपास या स्कूल से कई सीए बनना चाहता है तो सबसे पहले उसे ये पता होना चाहिए कि CA कैसे बने उसके साथ इस पोस्ट को जरूर शेयर करे।

जैसा कि आपको मालूम है कि CA एक बिजनेस, अकाउंट, टैक्स, हिसाब किताब से संबधित कोर्स है, इस लिए जो व्यक्ति CA बनना चाहता है उसे तो सबसे पहले 10th के बाद कॉमर्स सब्जेक्ट चुन कर पढ़ाई करनी चाहिए इससे ये आपको आगे CA जैसे मुश्किल कोर्स एंट्रेस एग्जाम के लिए सहायता मिलेगी।
ऐसा नहीं है कि सिर्फ कॉमर्स के स्टूडेंट्स ही CA बन सकता है? काफी लोगों को इसके बारे में कन्फ्यूजन होता है पर सच्चाई में आर्ट्स, साइंस क्षेत्र के स्टूडेंट्स भी CA बन सकते हैं।
CA बनने के लिए मुख्य तौर पर कैंडिडेट को तीन प्रकार के एग्जाम को पास करना पड़ता है। जिसका नाम नीचे दिया है।

  • CPT (Common Proficiency test)
  • IPCC (Integrated Professional Competence course)
  • FINAL (course)

अब चलते बात करते है कि एक स्टूडेंट किस प्रकार से CA बन सकता है उसे किस स्टेप से गुजरना पड़ता है –

  • ATC (According Technician course)

जब आप CPT एंट्रेस एग्जाम को क्लियर कर लेते हैं, उसके बाद आपको ACT में नामांकन करना होता है।

  • IPCC के लिए आवेदन करना:

इसके बाद जो दूसरी महत्वपूर्ण चीज आईपीसीसी (IPCC) में आवेदन करना होता है, इसके लिए आपका सीपीटी टेस्ट में 200 में न्यूनतम 100 अंक लाना जरूरी होता है। और इसे आईपीसीसी एग्जाम से 9 महीने पहले रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक होता है। इसमें भी साथ सब्जेक्ट की परीक्षा होती है जिसमें प्रत्येक में 100 में आपको कम से कम 40 अंक लाना जरूरी होता है।

  • CA Internship (सीए इंटर्नशिप)

जब आप IPCC कोर्स कंप्लीट कर लेते है उसके बाद आप 3 साल एक Certified CA के नीचे इंटर्नशिप करना होता है, इस दौरान आप सीए की काफी कुछ अनुभव प्राप्त होती है, विभिन्न प्रकार की बिजनेस और अकाउंट कि प्रॉब्लम को सॉल्व करना आप सीख जाते हैं।

  • FINAL COURSE (फाइनल कोर्स)

इंटर्नशिप के दौरान अंतिम 6 महीने में CA की आप फाइनल कोर्स दे सकते है, फाइनल कोर्स पास करने के पश्चात आपको सीए की सर्टिफिकेट दे दी जाती है। तब आप एक कंप्लीट सीए बन चुके होते हैं।

इसके बाद एक और सवाल जो काफी सारे लोगो के जेहन में रहता है की सीए की सैलरी कितनी होती है आइए जानते हैं-

What is the first salary of CA? ( CA की फर्स्ट सलरी कितनी होती है?)

एक सीए यानी चार्टर्ड अकाउंटेंट की सैलरी कितनी ही सकती है, ये इस बात पर निर्भर करता है कि वह किस एरिया में काम कर रहा है। CA की फाइनल कोर्स करने के बाद एवरेज सालाना तनखा 4से 6 लाख की हो सकती है। इसके बाद जैस जैसे आप अनुभवी और पुराना होते है वैसे ही आपकी सैलरी में भी बढ़ोतरी होती है।

अब चलिए जानते हैं कि CA के लिए क्या क्या क्वालिफिकेशन होनी चाहिए?

What is Qualification of CA? (CA के लिए क्वालिफिकेशन)

एक सीए कैंडिडेट को इसकी भी जानकारी होनी चाहिए कि CA बनने के लिए क्या क्या क्वालिफिकेशन होनी चाहिए।
सबसे पहली चीज की बात करे तो 12 वीं में आपको 55% से कम अंक नहीं होनी चाहिए।

यदि आप गणित विषय चुनकर पढ़ाई कर रहे हैं तो 60% से कम अंक नहीं होनी चाहिए और यदि आप कॉमर्स स्ट्रीम से हैं तो 50% से अधिक मार्क्स होनी चाहिए, नहीं तो आप CPT एंट्रेंस एग्जाम को नहीं दे पाएंगे।

इसके बाद आपको सीपीटी एंट्रेंस एग्जाम के लिए रजिस्ट्रेशन करवा ले रजिस्ट्रेशन आप 10th में ही करवा सकते है पर एग्जाम आप 12th के बाद ही दे सकते है।

जब आप सीपीटी एग्जाम क्लियर करते है, तब आप भारतीय चार्टर्ड अकाउंटेंट इंस्टीट्यूट के सदस्य बन जाते हैं। Indian Chartered accountant ही सीए की पाठ्यक्रम का संचालन और परीक्षा की आयोजन करती है।

albarch hawkton

Leave a Reply